{ डी.आर.गौतम – कुल्लू } कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता रामसिंह मियां ने अपनी पत्नी सुमित्रा मियां को जिला परिषद के धाऊगी वार्ड से चुनावी मैदान में उतारा है जिससे यहां के सभी समीकरण बदल गए हैं पहले जहां भाजपा की ओर से हितेश्वर कथा ओम प्रकाश ठाकुर सशक्त उम्मीदवार लग रहे थे किंतु यह सीट महिला आरक्षित हो गई जिसकी वजह से कई नेता अब चुनावी मैदान से हट गए हैं वही धाऊगी वार्ड से अभी तक कोई सशक्त महिला नजर नहीं आ रही थी किंतु अचानक राम सिंह मियां ने अपनी पत्नी को चुनावी मैदान में उतारकर सारे समीकरण बदल दिए है कांग्रेस पार्टी के विभिन्न पदों पर कार्य कर चुके राम सिंह मियां की धर्म पत्नी सुमित्रा मियां ने शुक्रवार को सैकड़ों महिलाओं की मौजूदगी में धाऊगी वार्ड से जिला परिषद चुनाव लडने का ऐलान कर दिया है। वताया जा रहा है कि सुमित्रा मियां पर पार्टी की भी सहमति वन गई है जिस की जल्द घोषणा पार्टी करने जा रही है । वता दे कि पिछले 20 वर्षों से आरक्षित चल रहा कुल्लू जिला का धाऊगी वार्ड काफी महिनों से सुर्खियों में चल रहा है जिसे चुनाव आयोग ने एक वार फिर महिला ओपन के लिए आरक्षित कर दिया है जिस कारण एकाएक अब धाऊगी वार्ड में समीकरण बदल गए हैं जो नेता पिछले कई वर्षों से होमवर्क कर रहे हैं उन्हें एक बार फिर चुनाव आयोग ने झटका दे दिया है जिस कारण नेताओं ने अब मजबूरी में अपने धर्म पत्नियों को चुनाव मैदान में उतारने का ऐलान कर दिया है। हालांकि रामसिंह मियां कांग्रेस पार्टी के विभिन्न पदों पर कार्य कर चुके हैं और युवाओं में भी अच्छी पकड़ है । वही शुक्रवार को धाऊगी वार्ड की सैकड़ों महिलाएं  सुमित्रा मियां के मिलनसार स्वभाव मधुर वाणी शैक्षणिक योग्यता से प्रभावित होकर उन को मजबूत करने के लिए खड़ी हो गई है। जिससे कांग्रेस पार्टी में अब हलचल तेज हो गई है। उधर क्षेत्र के संतुलन को देखते हुए कांग्रेस हाईकमान ने धाऊगी वार्ड से सुमित्रा मियां को इशारों ही इशारों में चुनावी मैदान में उतारने के संकेत दे दिए हैं बस अब इंतजार है तो भाजपा प्रत्याशी घोषित होने का है जिसके तुरंत बाद कांग्रेस पार्टी सुमित्रा मियां को चुनाव मैदान में उतारेगी। विश्वस्त सूत्रों का कहना है कि पार्टी हाईकमान क्षेत्र का संतुलन देखते हुए रामसिंह मियां की धर्म पत्नी सुमित्रा मियां पर दांव खेल सकती है जिसके लिए कांग्रेस पार्टी में अंदर ही अंदर बैठकों का दौर शुरू कर दिया है। रामसिंह मियां पिछले कई वर्षों से सामाजिक गतिविधियों के अलावा कांग्रेस पार्टी के विभिन्न पदों पर कार्य कर पार्टी को मजबूत करने में अहम भूमिका निभा चुके हैं और विधानसभा चुनावों में टिकट के लिए अपनी दावेदारी भी पेश कर चुके हैं ऐसे में धाऊगी वार्ड से उनकी दावेदारी मजबूत लग रही है और अव हाईकमान के इशारे पर रामसिंह मियां ने अपनी धर्मपत्नी सुमित्रा मियां को मैदान में उतार दिया हैं और धाऊगी वार्ड में रोस्टर जारी होते ही मौहाल गर्म हो गया है । सूत्रों का कहना है कि पार्टी हाईकमान रामसिंह मियां की धर्म पत्नी को धाऊगी वार्ड से पार्टी समर्थित उम्मीदवार के तौर पर उतार सकती है। ज्ञात रहे कि रामसिंह मियां को काग्रेस पार्टी विभिन अहम पदों पर कार्य करने का इनाम से सकती हैं चुनावी नतीजे क्या रहते हैं यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा किंतु यह बात जरूर हैं कि अभी तक सुमित्रा मियां को छोड़कर कोई दूसरी महिला धाऊगी वार्ड से नहीं दिख रही है

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seven + six =