[न्यूज प्लस- शिमला] कुल्लू के युवा पत्रकार राम चौहान का जाना इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के लिए एक भारी क्षति राम पिछले लगभग 15 वर्षों से पत्रकारिता के क्षेत्र में कार्य कर रहे थे राम न्यूज़ प्लस अपने कैरियर की शुरुआत की थी उसके बाद बे काफी समय तक शिमला दूरदर्शन के लिए कार्य करते रहे वहीं से उनके वीडियो जर्नलिस्ट का सफर शुरू हुआ राम ने इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के साथ-साथ प्रिंट मीडिया में भी कार्य किया दैनिक जागरण में काफी समय तक संवाद सहयोगी के रूप में कार्य करते रहे साथ ही उन्होंने कुल्लू में एक केबल चैनल शुरू किया था जिसमें उन्होंने बच्चों की प्रतिभा को निखारने के लिए कई रियलिटी शो शुरू किए थे राम शानदार वीडियोग्राफी करते थे उन्होंने कई प्रोडक्शन हाउस के लिए वीडियो शूटिंग का कार्य भी किया है राम पिछले काफी समय से कैंसर से लड़ रहे थे मार्च के आसपास वे अपना ट्रीटमेंट करवाने ही जा रहे थे कि अचानक पूरे हिंदुस्तान में कोरोनावायरस ने दस्तक दे दी जिसकी वजह से पूरे भारत में लॉक डाउन लग गया राम ने लगभग लॉकडाउन के खुलने का 3 महीने इंतजार किया और यही देरी शायद उनकी मौत का कारण बन गई मैं पिछले 30 महीनों से शिमला में कैंसर से लड़ने के लिए रेडियोथैरेपी और कीमोथेरेपी ले रहे थे किंतु इस लड़ाई में हार के मात्र 28 वर्ष की आयु में राम हम सबको अलविदा कहकर चले गए आपको बता दें राम चौहान किसी भी तरह का नशा नहीं लेते थे इसके बावजूद भी कैंसर ने उन पर कैसे बार किया यह कुछ कहा नहीं जा सकता राम एक युवा और जुझारू पत्रकार थे वे दिन रात मेहनत करते थे उन्हें अपने काम से अद्भुत प्रेम था कई युवाओं को राम से प्रेरणा मिलती थी किंतु वक्त के आगे किसकी चली मात्र 28 वर्ष की उम्र में राम कैंसर की लड़ाई में जंग हार गए न्यूज़ प्लस परिवार राम चौहान को अश्रुपूर्ण श्रद्धांजलि देता है और भगवान उनके परिवार को इस दुख की घड़ी में हिम्मत दे इतनी छोटी उम्र में जुझारू मेहनती राम का जाना कोई छोटी क्षति नहीं है

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen + seventeen =