जिला में कुल 3,00,271 मतदाता, 544 मतदान केन्द्र 3 संवेदनशील और चार अति संवेदनशील केन्द्र

{पुष्पा शर्मा :न्यूज़ प्लस }- जिला निर्वाचन अधिकारी यूनुस ने बताया कि गत रविवार को देश में लोक सभा चुनावों के कार्यक्रम की घोषणा के साथ आदर्श आचार संहिता लागू हो चुकी है। इसके साथ ही सुचारू, निष्पक्ष व शांतिपूर्ण चुनाव करवाने के उद्देश्य से चुनावी प्रक्रिया भी आरंभ कर दी गई है। उन्होंने बताया कि आदर्श आचार संहिता के नियमों की कड़ाई से पालना करने के लिए विभिन्न समितियों का गठन कर लिया गया है। सभी समितियों ने अपना दायित्व संभाल लिया है। उन्होंने कहा कि जिला के सभी चारों विधानसभा क्षेत्रों में 12 सैक्टर मैजीस्ट्रेट तथा 55 सैक्टर आॅफीसर तैनात किए गए हैं। जिला के सभी मतदान केन्द्रों के लिए कुल 2176 कर्मचारी तैनात किए जाएंगे जबकि कुल 3500 कर्मचारियों को इस कार्य के लिए आरक्षित रखा गया है। 
       उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी यूनुस ने बताया कि कुल्लू जिला निर्वाचन संसदीय क्षेत्र मण्डी के अंतर्गत आता है।  आगामी लोक सभा चुनाव में कुल्लू जिला से 985 सर्विस मतदाताओं सहित कुल 3,00,271 मतदाता अपने मतदान का उपयोग कर सकेंगे। इसके लिए जिलाभर में कुल 544 मतदान केन्द्रों की स्थापना की गई है। यह जानकारी उन्होंने आज यहां पत्रकारों के साथ सांझा की। उन्होंने बताया कि 544 मतदान केन्द्रों में से 63 संवेदनशील तथा चार अति संवेदनशील हैं। अति संवेदनशील मतदान केन्द्रों में मनाली विधानसभा क्षेत्र का मतदान केन्द्र 25-कनियाल, कुल्लू का 67-पाह, बंजार का 54-बागी कशारी और बंजार विस का ही 127-सर्थी शामिल हैं। संवेदनशील तथा अति संवेदनशील मतदान केन्द्रों में कुल 88 माईक्रो आॅब्जर्वर नज़र रखेंगे। इन केन्द्रों में अर्धसैनिक बल भी तैनात किए जाएंगे। यूनुस ने बताया कि 10 प्रतिशत मतदान केन्द्रों की वैब कास्टिंग की जाएगी। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के दो मतदान केन्द्रों का संचालन केवल महिला कर्मियों द्वारा किया जाएगा। इन केन्द्रो की सुरक्षा का जिम्मा भी महिला पुलिस को ही दिया जाएगा।
उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार की उल्लंघना को रोकने के लिए नाका चैकियों पर वीडियो निगरानी टीमें लगाई गई हैं। चार वीडियो निगरानी तथा चार लेखा निगरानी टीमों के अलावा राष्ट्रीय व राज्य मार्गों पर निगरानी के लिए 12 उड़न दस्ते गठित किए गए हैं। 12 स्टैटिक सर्विलेन्स टीमें बनाई गई हैं और सभी टीमें जीपीएस से जुड़ी होंगी।
            जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जिला में लगभग 10,000 ऐसे युवा हैं जिनके मतदाता फोटो पहचान पत्र नहीं बने हैं।  पहली जनवरी को 18 वर्ष की आयु पुरी करने वाले पात्र युवाओं के फोटो पहचान पत्र बनाएं जाएंगे।उन्होंने कहा कि जिलाभर में स्वीप गतिविधियों को प्रभावी ढंग से चलाया जाएगा। लोगों को जहां मतदान करने के लिए प्रेरित किया जाएगा, वहीं विशेष अभियान चलाकर पात्र युवाओं के फोटो पहचान पत्र बनाएं जाएंगे। इसके लिए महिला व युवक मण्डलों का सहयोग लिया जाएगा। स्वीप गतिविधियों में पारम्परिक तौर-तरीकों का भी उपयोग किया जाएगा। 
                    जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि किसी भी सरकारी अथवा निजी संपति पर बैनर व पोस्टर नहीं लगाए जा सकते। उल्लंघना करने पर भारतीय दण्ड संहिता की धारा के तहत कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने निजी शिक्षण संस्थानों अथवा कंपनियों से भी इस संबंध में एहतिआत बरतने को कहा है। उन्होंने पर्यटन स्थलों पर भी इस प्रकार के पोस्टर चस्पान करने वालों के विरूद्ध कड़ी कारवाई करने की बात कही। 
Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s