एक लाख रुपए की  रिश्वत लेते पकड़े तीन आरोपी-

हमीरपुर /  {रजनीश शर्मा} -पांवटा साहिब में एक स्टोन क्रशर के निरीक्षण रिपोर्ट पर एसडीएम के हस्ताक्षर करवाने को लेकर एक लाख रुपए की  रिश्वत लेते पकड़े तीन  आरोपियों को वीरवार को हमीरपुर सैशन कोर्ट में पेश किया गया । विजिलेंस  व एंटी क्रप्शन ब्यूरो की टीम ने बुधवार को बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया था । एक दलाल रितेश बंसल को एक लाख रुपए लेते हुए गिरफ्तार किया गया है, जबकि दूसरे दलाल शुलभ अग्रवाल को भी पांवटा साहिब से ही अरेस्ट किया गया है। रितेश व शुलभ पौण्टा साहिब में किरयाने की दुकान करते हैं ।  एचएएस अधिकारी व टेकनिकल यूनिवर्सिटी हमीरपुर के रजिस्ट्रार एच एस राणा को भी रिश्वतकांड में पकड़ा गया है । कोर्ट ने तीनों आरोपियों को  एक   दिन के  पुलिस रिमांड पर भेज दिया है । इस दौरान विजिलेंस टीम आरोपियों से पूछताछ करेगी ।
ग़ौरतलब है कि टेकनिकल यूनिवर्सिटी हमीरपुर में तैनात रजिस्ट्रार एचएस राणा इससे पहले पौण्टा साहिब में बतौर एसडीएम पोस्टेड थे और एक स्टोन क़्रैशर की एन॰ओ॰सी॰ को लेकर एक फाईल पर उनके हस्ताक्षर होने बाकि थे ।इसी हस्ताक्षर की एवज़ में एक लाख रुपए रिश्वत की माँग की जा रही थी । शिकायतकर्ता ने इसकी जानकारी एंटी करप्शन व विजिलेंस विभाग हमीरपुर को दी ।
पांवटा साहिब में जैसे ही एक दलाल को एक लाख रुपए की घूंस दी गई तो इसकी सूचना चंडीगढ़ में मौजूद तकनीकी विश्वविद्यालय हमीरपुर में तैनात रजिस्ट्रार (एचएएस अधिकारी)  एसएच राणा को दी गई। वहां शिकायतकर्ता फाइल सहित हस्ताक्षर करवाने के लिए पहले से ही मौजूद था।   एचएएस अधिकारी राणा  ने जैसे ही फाइल पर साइन किए तो उन्हें भी पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया गया।
मामला, दिसंबर 2017 से पहले शुरू हुआ। उस समय पांवटा साहिब के एसडीएम के पद पर एचएस राणा तैनात थे। विनायक स्टोन क्रशर की निरीक्षण रिपोर्ट पर कमेटी के तमाम सदस्यों के हस्ताक्षर हो गए, लेकिन एसडीएम के स्तर पर इसे पैंडिंग रखा गया। सूत्रों के मुताबिक एसडीएम ने विनायक स्टोन क्रशर प्रबंधक को शुलभ अग्रवाल नाम के व्यक्ति से संपर्क करने को कहा। इस पर एक लाख रुपए की डिमांड हुई। इसी बीच शुलभ अग्रवाल ने शिकायतकर्ता से रितेश बंसल को आज एक लाख रुपए देने को कहा।
जींद  में रहने वाला शिकायतकर्ता खुद चंडीगढ़ में था। जबकि उसने एक लाख रुपए की राशी अन्य व्यक्ति से दलाल रितेश बंसल को दी।
स्टेट विजीलेंस व एंटी क्रप्शन ब्यूरो ने चार-पांच टीमों का गठन किया हुआ था। हमीरपुर के डीएसपी (स्टेट विजीलेंस व एंटी क्रप्शन ब्यूरो) बीडी भाटिया का कहना था कि अलग-अलग जगहों पर एक साथ दबिश दी गई। उन्होंने कहा कि मामले की गहनता से जांच जारी है।
उधर एसपी स्टेट विजीलेंस व एंटी क्रप्शन ब्यूरो मंडी एके चौधरी ने पुष्टि करते हुए कहा कि दो दलालों को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि चूंकि अधिकारी हमीरपुर में तैनात है, लिहाजा हमीरपुर में ही मामला दर्ज किया गया है। कोर्ट में पेश करने के बाद आरोपियों को एक दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है ।
Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s