खेमराज गौतम-कुल्लू

जनजातीय क्षेत्र जिला लाहौल-स्पीति में स्वास्थ्य सुविधा पूरी तरह से लचर अवस्था में हैं जिसके कारण जिला युवा कांग्रेस ने उपाध्यक्ष कुंगा बौद्ध की अगुआई में मंगलवार को केलांग में उपायुक्त को ज्ञापन सौंपा। उन्होंने कहा कि जिले में पिछले डेढ़ दशक से एक भी विशेषज्ञ चिकित्सक नहीं हैं। वहीं सुविधाओं के अभाव में कई जाने जा चुकी हैं। उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय अस्पताल केलांग में अति आधुनिक स्वास्थ्य उपकरण उपलब्ध हैं, लेकिन तकनीकी स्टाफ व विशेषज्ञ चिकित्सकों के न होने से करोड़ों की मशीने धूल फांक रही हैं। जिले में एक्सरे,अल्ट्रासांउड, सीटी स्केन जैसी बुनियादी सुविधाओं के अभाव से मरीजों को सैकड़ो किलोमीटर दूर रूख करना पड़ता है। चिकित्सालय में रेडियोलोजिस्ट नहीं हैं जिसके कारण लोगों को जिले से बाहर का रूख करना पड़ रहा है। हांलाकि जिले में टेलीमेडिसन जैसे सुविधा उपलब्ध है, लेकिन विशेषज्ञ चिकित्सकों के अभाव में जिले में बेहतर मेडिकल स्टोर न होने के कारण टेलीमेडिसन सुविधा का लाभ भी सही तरह से लोगों को नहीं मिल रहा है। जिले में स्त्री रोग विशेषज्ञ न होने के कारण प्रसव के लिए जिले से बाहर रेफर किया जाता है जिससे गरीब जनता को वितीय परेशानियों से जूझना पड़ता है। वहीं पर जिला अस्पताल में जनरल सर्जन, हड्डी रोग विशेषज्ञ, नाक, कान, गला विशेषज्ञव नेत्र रोग विशेषज्ञ के पद काफी समय से खाली चल रहें हैं।
उपाध्यक्ष ने कहा कि सरकार द्वारा सभावित कोविड की तीसरी लहर का असर बच्चों पर पड़ सकता है ऐसे में जिले में बाल रोग विशेषज्ञ न होने से जिले की जनता पहले से ही चिंतित हैं। अटल टनल रोहतांग के खुल जाने से जिले में पर्यटकों और मजदूरों की आमद बढ़ गई है। ऐसे में सड़क दुर्घटनाओं व हाईएलटीचियुड सिकनेस जैसी समस्याओं के कारण पर्यटकों को जिले के क्षेत्रीय अस्पताल में भी बेहतर सुविधा न मिलने लोगों को दूसरे जिले में रेफर किया जाता है।
जिले में स्वास्थ्य सुविधाओं की खराब व्यवस्था को देखते हुए तुंरत हस्तक्षेप करते हुए जिले में स्वीकृत विशेषज्ञों चिकित्सकों के पदों को भरा जाए ताकि आपात स्थिति में जिले में छोटे स्तर के ऑपरेशन और लोगों की जान से खिलवाड़ न हों। उन्होंने कहा कि सरकार के नकारात्मक रवैये से जनजातीय क्षेत्र के लोगों को सरकारी तंत्र से भरोसा उठता जा रहा है। इसलिए सरकार समय रहते स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करने के लिए सूध ले नहीं तो दसे दिनों भीतर जिला युवा कांग्रेस मुयालय में अपनी मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन करने पर मजबूर होगी। उन्होंने सरकार से आग्रह किया है कि जनजातीय क्षेत्र मुयालय केलांग के अस्पताल में शीघ्र अतिशीघ्र विशेषज्ञ चिकित्सकों व रेडियोलोजिस्ट की तैनाती करें ताकि जनजातीय क्षेत्र के लोगों को जिले से बाहर न जाना पड़े।
प्रदेश सरकार समय रहते केलांग अस्पताल में चिकित्सकों के रिक्त चल रहे पदों को भरें ताकि क्षेत्र के लोगों को स्वास्थ्य सुविधाओं का पूरा लाभ मिलें। स्वास्थ्य सुविधाओं के संदर्भ के प्रदेश के मुयमंत्री, स्वास्थ्य मंत्री, जनजातीय विकास मंत्री व प्रदेश मुख्य सचिव को मांग पत्र की प्रतियां प्रेषित की गई हैं।

Spread the love