रोशन शर्मा [कुल्लू] : लकड़ी के घरों में सबसे ज्यादा नुकसान की यदि बात की जाये तो वो नुकसान अधिकतर आग से होते है ऐसा ही एक हादसा जिला कुल्लु के सैंज घाटी के ग्राम पंचायत रैला के गांव सारी में बुधवार रात को हुआ जिसमें एक मकान गैस सिलेंडर फटने से उस घर में आग लग गई जिससे व मकान आग में जलकर राख हो गया यह मकान काठकुन्नी शैली का साढे तीन मंजिला था । इस घटना से घर में रखा सारा सामान जल कर राख हो गया जिसमें 7 परिवार बेघर हो गए। गौरतलब है कि इस घर में 14 कमरे थे। जिसमें हेमराज, बेदराम, मोतीराम, सुंदर सिंह, रामदास, उत्तम सिंह रहते थे। प्राप्त जानकारी के अनुसार पता चला कि खाना बनाने के लिए गैस चूल्हे पर लगा रखी थी। अचानक ही गैस सिलेंडर में आग लगी जिससे वहां उपस्थित परिवारजनों में अफरा-तफरी मच गई। ऐसे में सब घर से बाहर निकल गए जब तक कुछ सोच विचार करते तो सिलेंडर फट गया और पूरे मकान में आग भड़क गई और आग पर काबू पाना बहुत ही मुश्किल हो गया, परिवार संग ग्रामिणों ने देर रात तक आग बुझाने की कोशिश की लेकिन आग इतनी भयानक थी कि देखते ही देखते मकान जलकर राख हो गया। प्रशासन की ओर से हल्का पटवारी सुरेश ठाकुर मौके पर पहुंचे। अग्नि प्रभावित 7 परिवारों को 35 हजार रुपये फौरी राहत के तौर पर दिए। एनएचपीसी ने भी अपने दमकल वाहन को मौके पर भेजा लेकिन तब तक सब कुछ राख हो गया था।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.

15 − one =